feedburner

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

ताऊ ओर जुसवाला

.

ताऊ, जुस वाले से... अबे जल्दी जुस ला ! लडाई होने वाली है,
एक गिलास पीने के बाद, अबे जल्दी से दुसरा गिलास जुस का ले कर आ !! लडाई होने वाली है.
दो गिलास पीने के बाद...अबे जल्दी से तीसरा गिलास जुस का ले कर आ !! लडाई होने वाली है...
जुस वाला, लेकिन ताऊ लडाई कब होगी ?
ताऊ... अबे जब तु मुझ से जुस के पेसे मांगेगा!!!!
***********************************************************
दो बच्चो की मां तीसरी बार शादी कर रही थी....
फ़ेरो के वक्त छोटा बेटा रोने लगा,
मां बोली चुप कर वरना अगली बार साथ नही लाऊगी.
*************************************************************
संता ने बंता से पुछा ?? यार तेरी अभी तक शादी क्यो नही हुयी ?
बंता जोर से बोला....जा को राखे साईयां मार ना साके कोये

********************************************************
एक सायनी मां अपने बच्चो को बोली... जो बच्चा रात को खाना नही खायेगा, उसे पांच पांच रुपये मिले गे.
बच्चो ने पांच पांच रुपये ले लिये.
सुबह मां बोली जो बच्चा पांच रुपये देगा उसे नास्ता मिलेगा ?
**************************************************************
लडके .... बस ओर लडकी एक जाती है तो दुसरी आ जाती है.
लडकी..... रिक्क्षा ओर लडके एक से होते है , एक को बुलाओ तो लाईन लग जाती है.
************************************************************
एक आदमी को एक ट्रक ने टक्कर मार दी, लेकिन वो आदमी बच गया.
उस के दोस्त ने कहा, यार जो हुआ बुरा हुआ, भगवान की दया से तु बच गया, लेकिन अब तु डरा क्यो है.
आदमी ... यार उस ट्रक के पीछे लिखा था अच्छा बिछडते है फ़िर मिलेगे

20 टिपण्णी:
gravatar
अजय कुमार झा said...
24 June 2009 at 5:32 PM  

फिर तो चाय वाले को ताऊ के लट्ठ से डर के सारी चाय पिलानी ही पड़ी होगी.....चलो अच्छा है हवाई यात्रा की थकान मिटा लेंगे....राज भाई..वो पांच रुपये वाले चुटकुले ने तो भाई हसाने की बजाय भावुक कर दिया..मगर अछा लगा...

gravatar
Pt.डी.के.शर्मा"वत्स" said...
24 June 2009 at 5:36 PM  

दो बच्चो की मां तीसरी बार शादी कर रही थी....
फ़ेरो के वक्त छोटा बेटा रोने लगा,
मां बोली चुप कर वरना अगली बार साथ नही लाऊगी.

हा हा हा हा.......भई वाह्! भाटिया जी,क्या बढिया चुटकुला पेश किया है।

gravatar
Arvind Mishra said...
24 June 2009 at 5:36 PM  

बढियां है

gravatar
Udan Tashtari said...
24 June 2009 at 6:03 PM  

हा हा हा हा...वाह्! बढियां है.

gravatar
रंजन said...
24 June 2009 at 6:03 PM  

हा हा हा..

gravatar
P.N. Subramanian said...
24 June 2009 at 6:05 PM  

मजा आ गया लेकिन "फ़ेरो के वक्त छोटा बेटा रोने लगा" यह नौबत भारत में बमुश्किल मिलेगी. इसे चर्च में उठा ले जाते तो उचित होता.

gravatar
SUNIL DOGRA जालि‍म said...
24 June 2009 at 7:55 PM  

बहुत खूब सर, मजा आ गया ....

gravatar
बालसुब्रमण्यम said...
24 June 2009 at 7:55 PM  

अच्छे लगे। मां वाली (अगली बार नहीं लाऊंगी) मारक रही।

gravatar
seema gupta said...
25 June 2009 at 8:11 AM  

हा हा हा हा हा हा हा हा हा मजेदार..

regards

gravatar
आकांक्षा~Akanksha said...
25 June 2009 at 9:32 AM  

आप लिख ही नहीं रहें हैं, सशक्त लिख रहे हैं. आपकी हर पोस्ट नए जज्बे के साथ पाठकों का स्वागत कर रही है...यही क्रम बनायें रखें...बधाई !!
___________________________________
"शब्द-शिखर" पर देखें- "सावन के बहाने कजरी के बोल"...और आपकी अमूल्य प्रतिक्रियाएं !!

gravatar
महामंत्री - तस्लीम said...
25 June 2009 at 12:38 PM  

ह ह हा।

मजा आ गया।
-Zakir Ali ‘Rajnish’
{ Secretary-TSALIIM & SBAI }

gravatar
मुकेश कुमार तिवारी said...
25 June 2009 at 2:21 PM  

राज जी,

मजा आ गया, चुटकुलें ताजा हैं और लज्जत को बढाते हुये है।

सादर,

मुकेश कुमार तिवारी

gravatar
Nirmla Kapila said...
25 June 2009 at 2:42 PM  

हा हा हा चुटकुले तो सभी बहुत अच्छे है मगर्लडके .... बस ओर लडकी एक जाती है तो दुसरी आ जाती है.
लडकी..... रिक्क्षा ओर लडके एक से होते है , एक को बुलाओ तो लाईन लग जाती है
हा हा हा हा------------

gravatar
सुशील कुमार छौक्कर said...
25 June 2009 at 6:14 PM  

चटपटे मजेदार।

gravatar
कुश said...
25 June 2009 at 6:25 PM  

मज्जा आ गया जी...

gravatar
HEY PRABHU YEH TERA PATH said...
25 June 2009 at 11:56 PM  

राज भाई साहब
हसना मना है ):(

आभार/मगलकामना
महावीर बी सेमलानी "भारती"
मुम्बई टाईगर
हे प्रभु यह तेरापन्थ

gravatar
दिगम्बर नासवा said...
26 June 2009 at 9:41 AM  

हंसी का खजाना हैं भाटिया जी.........नए और हँसाने में पूरे पूरे कामयाब

gravatar
Pyaasa Sajal said...
28 June 2009 at 3:50 PM  

लडके .... बस ओर लडकी एक जाती है तो दुसरी आ जाती है.
लडकी..... रिक्क्षा ओर लडके एक से होते है , एक को बुलाओ तो लाईन लग जाती है.

kraantikari chutkulaa hai :D

gravatar
ताऊ रामपुरिया said...
29 June 2009 at 8:07 AM  

आज तो तगडा माल लाये हैं भाटिया जी.:) सुबह सुबह ही मजा आ गया. लगता है दिन अच्छा जायेगा.

रामराम.

gravatar
P Chatterjee said...
3 November 2016 at 5:00 AM  


दोस्त की बीवी

डॉली और कोचिंग टीचर

कामवाली की चुदाई

नाटक में चुदाई

स्वीटी की चुदाई

कजिन के मुहं में लंड डाला

Post a Comment

Post a Comment

नमस्कार,आप सब का स्वागत हे, एक सुचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हे, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी हे तो माडरेशन चालू हे, ओर इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा,नयी पोस्ट पर कोई माडरेशन नही हे, आप का धन्यवाद टिपण्णी देने के लिये

टिप्पणी में परेशानी है तो यहां क्लिक करें..
मैं कहता हूं कि आप अपनी भाषा में बोलें, अपनी भाषा में लिखें।उनको गरज होगी तो वे हमारी बात सुनेंगे। मैं अपनी बात अपनी भाषा में कहूंगा।*जिसको गरज होगी वह सुनेगा। आप इस प्रतिज्ञा के साथ काम करेंगे तो हिंदी भाषा का दर्जा बढ़ेगा। महात्मा गांधी अंग्रेजी का माध्यम भारतीयों की शिक्षा में सबसे बड़ा कठिन विघ्न है।...सभ्य संसार के किसी भी जन समुदाय की शिक्षा का माध्यम विदेशी भाषा नहीं है।"महामना मदनमोहन मालवीय