feedburner

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

तुम आज मेरे संग हंसलो.२

.

ताऊ..... अपने बाबु के सामने बीडी पी रहा था,
पडोसी... ने कहा बेटा अपने बाप के सामने बीडी नही पीते,
ताऊ...... अरे वो मेरे बाबु है, कोई पेट्रोल पम्प थोडी ना है.
***************************************************************
ताऊ... अरी भागवान कार क्यो तेजी से चला रही हो??
ताई.... ऒ जी, कार की ब्रेक जो फ़ेल हो गई है,ओर कुछ हो
उस से पहले ही घर पहुच जाये.
*********************************************************************
तिवारी साहब... ओए ताऊ देख लडकी कितनी सुंदर है.
ताऊ.... तिवारी मुझे तो इस का नाम भी पता है,
तिवारी साहब... वो केसे??
ताऊ.... तिवारी जी जब मै बेंक मे पेसे लेने गया ना तो यह काउंटर पे बेठी थी,
ओर नेम प्लेट पे लिखा था, चालू खाता.

23 टिपण्णी:
gravatar
विनय said...
5 February 2009 at 9:16 PM  

taau ko khoob nishaana banaaya

gravatar
PD said...
5 February 2009 at 9:19 PM  

ye sahi hai.. raaj ji..

vaise mere agle post me aap aur taau hi chhaye huye hain.. jisme aapke bete ko bhi maine sameta hai.. :) intajaar kijiye.. kal sham(IST) tak ka.. :)

gravatar
Udan Tashtari said...
6 February 2009 at 1:52 AM  

:)

gravatar
seema gupta said...
6 February 2009 at 5:06 AM  

ताऊ... अरी भागवान कार क्यो तेजी से चला रही हो??
ताई.... ऒ जी, कार की ब्रेक जो फ़ेल हो गई है,ओर कुछ हो
उस से पहले ही घर पहुच जाये.
" हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा ताऊ जी का तो जवाब नही उसपे ताई जी माशाल्लाह ..."
regards

gravatar
Anil Pusadkar said...
6 February 2009 at 5:57 AM  

मुझे तो लगता है ताऊ की कार का ब्रेक आपने ही फ़ेल किया है।मगर ताई जी भी ताऊ जी से कम नही है ज़ल्द-से-ज़ल्द घर पहूंच कर ही दम लेंगी।

gravatar
Anil Pusadkar said...
6 February 2009 at 5:57 AM  

मुझे तो लगता है ताऊ की कार का ब्रेक आपने ही फ़ेल किया है।मगर ताई जी भी ताऊ जी से कम नही है ज़ल्द-से-ज़ल्द घर पहूंच कर ही दम लेंगी।

gravatar
jayaka said...
6 February 2009 at 9:36 AM  

मै जर्मनी( अरलांगन)आ रही हूं।... आप का निवासस्थान जर्मनी है, जान कर बहुत खुशी हुई।मेरा E-mail 27aruna@gmail.com hai!...आने से पहले अवश्य सूचित करुंगी।

gravatar
jayaka said...
6 February 2009 at 9:37 AM  

ताऊ का नाम आते ही हंसी आ जाती है.... जैसे 'सरदारजी' का नाम आते ही हंसी फूट पड्ती है। मजा आ गया...

gravatar
ताऊ रामपुरिया said...
6 February 2009 at 10:03 AM  

कार का ब्रेक फ़ेल करने क मुकदमा आप लगाया जायेगा.:)

रामराम.

gravatar
hempandey said...
6 February 2009 at 10:46 AM  

मजेदार चुटकुले.

gravatar
Nirmla Kapila said...
6 February 2009 at 11:59 AM  

vah vah bahut badiyaa

gravatar
mamta said...
6 February 2009 at 12:34 PM  

एक से बढ़कर एक । :)

gravatar
राज भाटिय़ा said...
6 February 2009 at 12:36 PM  

जायका जी आप जब भी आये आप का स्वागत है.
Erlangen मेरे घर से करीब २०० कि मी दुर है, चलिये आप आय़े तो सही, लेकिन आप ने उतरना कोन से शहर मै है, मुनिख या कही ओर, क्योकि मुनिख का एयर पोर्ट मेरे घर से नजदीक है, सिर्फ़ ३० कि मी दुर. जब भी आये जरुर बताये,

gravatar
संगीता पुरी said...
6 February 2009 at 1:32 PM  

अच्‍छे चुटकुले हैं।

gravatar
Shastri said...
6 February 2009 at 3:49 PM  

आज पता चला भाटिया जी कि आप चुन चुन कर चुटकुले भी पेश करते हैं!!

सस्नेह -- शास्त्री

gravatar
महेन्द्र मिश्र said...
6 February 2009 at 4:16 PM  

बड़े मजेदार सटीक चुकुले है वो भी ताऊ जी पे. धन्यवाद. राज जी

gravatar
परमजीत बाली said...
6 February 2009 at 6:11 PM  

एक से बढ़कर एक ।बहुत मजेदार चुटकले हैं।

gravatar
varsha said...
6 February 2009 at 8:06 PM  

mazedaar rahi!

gravatar
महामंत्री - तस्लीम said...
7 February 2009 at 8:55 AM  

यहां भी ताऊ.
वैसे चुटकुल मजेदार हैं. आभार।

gravatar
COMMON MAN said...
7 February 2009 at 12:04 PM  

हाहाहा-हाहाहा

gravatar
योगेन्द्र मौदगिल said...
7 February 2009 at 4:53 PM  

चालू खाते का जवाब नहीं जर्मन ताऊ........

gravatar
आलोक सिंह said...
9 February 2009 at 6:52 AM  

बहुत ही सुंदर चुटकुले थे , पढ़ के मज़ा आ गया . ऐसी रचनाओ की मुझे तलाश रहती है .. धन्यवाद

gravatar
P Chatterjee said...
3 November 2016 at 5:55 AM  



दोस्त की बीवी

डॉली और कोचिंग टीचर

कामवाली की चुदाई

नाटक में चुदाई

स्वीटी की चुदाई

कजिन के मुहं में लंड डाला

Post a Comment

Post a Comment

नमस्कार,आप सब का स्वागत हे, एक सुचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हे, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी हे तो माडरेशन चालू हे, ओर इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा,नयी पोस्ट पर कोई माडरेशन नही हे, आप का धन्यवाद टिपण्णी देने के लिये

टिप्पणी में परेशानी है तो यहां क्लिक करें..
मैं कहता हूं कि आप अपनी भाषा में बोलें, अपनी भाषा में लिखें।उनको गरज होगी तो वे हमारी बात सुनेंगे। मैं अपनी बात अपनी भाषा में कहूंगा।*जिसको गरज होगी वह सुनेगा। आप इस प्रतिज्ञा के साथ काम करेंगे तो हिंदी भाषा का दर्जा बढ़ेगा। महात्मा गांधी अंग्रेजी का माध्यम भारतीयों की शिक्षा में सबसे बड़ा कठिन विघ्न है।...सभ्य संसार के किसी भी जन समुदाय की शिक्षा का माध्यम विदेशी भाषा नहीं है।"महामना मदनमोहन मालवीय