feedburner

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

तुम आज मेरे संग हंसलो.

.

बहार आने से पहले फ़िजा आ गई,
बहार आने से पहले फ़िजा आ गई.
ओर फ़ुल खिलने से पहले,
उन्हें बकरी खा गई.
**************************************
हम भी आप के लिये......
अजी हम भी आप के लिये ताज महल बनायेगें,
एक कप खुद ओर एक कप आप को पिलायेंगे.
******************************************************
बाप.... बेटा इस बार तुझे एग्जाम मे ९०% लाना है,
बेटा.... नही पापा, इस बार तो मै १००% लाऊंगा,
बाप.... अरे बेटा क्यो मजाक कर रहे हो,
बेटा..... शुरु किसने किया था.

14 टिपण्णी:
gravatar
परमजीत बाली said...
3 February 2009 at 9:55 PM  

बहुत बढिया !! राज जी। सभी बहुत मजेदार हैं।

gravatar
Udan Tashtari said...
4 February 2009 at 2:01 AM  

हा हा!! सुबह सुबह हँस लिए जी.

gravatar
विनय said...
4 February 2009 at 2:22 AM  

और सलमान ने राकेश रोशन से कंघी माँग ली, हहा हा हा!

gravatar
shyam kori 'uday' said...
4 February 2009 at 2:48 AM  

... majedaar chutkule hai.

gravatar
seema gupta said...
4 February 2009 at 6:06 AM  

बहार आने से पहले फ़िजा आ गई,
बहार आने से पहले फ़िजा आ गई.
ओर फ़ुल खिलने से पहले,
उन्हें बकरी खा गई.
"हा हा हा हा हा हा हा हा........."

Regards

gravatar
रंजना said...
4 February 2009 at 8:22 AM  

Ha Ha Ha Ha.....bahut majedaar.

gravatar
Anil Pusadkar said...
4 February 2009 at 8:40 AM  

हा हा हा हा हा हा.,………………

gravatar
गौतम राजरिशी said...
4 February 2009 at 9:03 AM  

लाजवाब...
पिता-पुत्र संवाद खास कर,बस हँसते जा रहा हूँ

gravatar
mehek said...
4 February 2009 at 9:36 AM  

bahut hi mazedaar khaaskar bakri:)wala

gravatar
the pink orchid said...
4 February 2009 at 1:14 PM  

chehre pur muskaan le aaye aap.. :)

ji kabhi fursat mein yahaan tashreef layiye aur maargdarshan kijiye.. -
mere blog ka link hai :
http://merastitva.blogspot.com

gravatar
hem pandey said...
4 February 2009 at 5:39 PM  

बहार आने से पहले फ़िजा आ गई,
बहार आने से पहले फ़िजा आ गई.
ओर फ़ुल खिलने से पहले,
उन्हें बकरी खा गई.
**************************************
हम भी आप के लिये......
अजी हम भी आप के लिये ताज महल बनायेगें,
एक कप खुद ओर एक कप आप को पिलायेंगे

-दोनों चुटकुले मजेदार हैं. तीसरा सुना हुआ है.

gravatar
Tapashwani Anand said...
5 February 2009 at 7:52 AM  

main bhi 100 walo ke paksh me mat dunga. :-)

gravatar
Nirmla Kapila said...
5 February 2009 at 12:41 PM  

taj mahal ka cup pee kar tabiat khush ho gayee

gravatar
P Chatterjee said...
3 November 2016 at 5:56 AM  


दोस्त की बीवी

डॉली और कोचिंग टीचर

कामवाली की चुदाई

नाटक में चुदाई

स्वीटी की चुदाई

कजिन के मुहं में लंड डाला

Post a Comment

Post a Comment

नमस्कार,आप सब का स्वागत हे, एक सुचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हे, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी हे तो माडरेशन चालू हे, ओर इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा,नयी पोस्ट पर कोई माडरेशन नही हे, आप का धन्यवाद टिपण्णी देने के लिये

टिप्पणी में परेशानी है तो यहां क्लिक करें..
मैं कहता हूं कि आप अपनी भाषा में बोलें, अपनी भाषा में लिखें।उनको गरज होगी तो वे हमारी बात सुनेंगे। मैं अपनी बात अपनी भाषा में कहूंगा।*जिसको गरज होगी वह सुनेगा। आप इस प्रतिज्ञा के साथ काम करेंगे तो हिंदी भाषा का दर्जा बढ़ेगा। महात्मा गांधी अंग्रेजी का माध्यम भारतीयों की शिक्षा में सबसे बड़ा कठिन विघ्न है।...सभ्य संसार के किसी भी जन समुदाय की शिक्षा का माध्यम विदेशी भाषा नहीं है।"महामना मदनमोहन मालवीय