feedburner

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

मियां बीबी राजी तो क्या करेगा...

.

अजी कोन कहता है नारी, मर्द से कम है, अजी नारी चार कदम आगे है मर्दो से, कोई शक !!!!!

16 टिपण्णी:
gravatar
Udan Tashtari said...
28 January 2009 at 1:14 AM  

राजी खुशी हो या जैसे भी-मामला साफ साफ उत्पीड़न का है जी.

gravatar
ताऊ रामपुरिया said...
28 January 2009 at 3:01 AM  

समीर जी की बात मे भी दम है पर एक बात पक्की है कि मेहनत करते हुये गर्मी बहुत लगती है. :)

रामराम.

gravatar
जी.के. अवधिया said...
28 January 2009 at 5:51 AM  

बिल्कुल नारी मर्दों से चार कदम आगे है जी।

gravatar
PN Subramanian said...
28 January 2009 at 6:07 AM  

पीछे आदमी हिन्दुस्तानी लग रहा है.

gravatar
सुशील कुमार छौक्कर said...
28 January 2009 at 6:38 AM  

बिल्कुल जी।

gravatar
chandrashekhar hada said...
28 January 2009 at 6:38 AM  

सच कहा आपने......मियां - बीबी राजी (ऐसे फोटो खिचाने को) तो आप हम मजे लेंगे ही .

gravatar
chandrashekhar hada said...
28 January 2009 at 6:38 AM  

सच कहा आपने......मियां - बीबी राजी (ऐसे फोटो खिचाने को) तो आप हम मजे लेंगे ही .

gravatar
रंजन said...
28 January 2009 at 7:11 AM  

बेचारा...

gravatar
COMMON MAN said...
28 January 2009 at 7:43 AM  

वाह जनाब वाह, क्या खूब फोटो चस्पा किये हैं.

gravatar
dhiru singh {धीरू सिंह} said...
28 January 2009 at 12:26 PM  

bechara aadmi hamesha peeche peeche hi chlta hae

gravatar
दिलीप कवठेकर said...
28 January 2009 at 1:27 PM  

एकदम गिन के चार कदम आगे है ये नारी, पुरुष से.Literally indeed!!

gravatar
Pt.डी.के.शर्मा"वत्स" said...
28 January 2009 at 2:37 PM  

भाटिया जी, हमको तो ई सब देख के लाज आवत है.
पर ये देखना दिलचस्प रहा के एक हिन्दुस्तानी अंग्रेजन को हांक रहा है.

gravatar
कार्तिकेय said...
28 January 2009 at 2:47 PM  

उत्पीड़न किसका समीर जी..? खींच तो स्त्री रही है, पुरूष तो ठलुए की तरह बस पकड़े हुए है....

वैसे दूरी चार क़दम से ज्यादा लग रही है...

gravatar
समयचक्र - महेद्र मिश्रा said...
28 January 2009 at 3:10 PM  

खींच रही महिला कम कपडो में
ठेल रहा है ठलुआ पूरे कपडे में
राज जी
नमस्ते
इस उमर में ऐसे फोटो देखकर आनंद आता है . . भाई कहाँ से खोजते है मजेदार फोटो . धन्यवाद.

gravatar
गौतम राजरिशी said...
30 January 2009 at 8:51 AM  

आप ग्रेट हो राज साब....

gravatar
P Chatterjee said...
3 November 2016 at 6:02 AM  


दोस्त की बीवी

डॉली और कोचिंग टीचर

कामवाली की चुदाई

नाटक में चुदाई

स्वीटी की चुदाई

कजिन के मुहं में लंड डाला

Post a Comment

Post a Comment

नमस्कार,आप सब का स्वागत हे, एक सुचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हे, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी हे तो माडरेशन चालू हे, ओर इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा,नयी पोस्ट पर कोई माडरेशन नही हे, आप का धन्यवाद टिपण्णी देने के लिये

टिप्पणी में परेशानी है तो यहां क्लिक करें..
मैं कहता हूं कि आप अपनी भाषा में बोलें, अपनी भाषा में लिखें।उनको गरज होगी तो वे हमारी बात सुनेंगे। मैं अपनी बात अपनी भाषा में कहूंगा।*जिसको गरज होगी वह सुनेगा। आप इस प्रतिज्ञा के साथ काम करेंगे तो हिंदी भाषा का दर्जा बढ़ेगा। महात्मा गांधी अंग्रेजी का माध्यम भारतीयों की शिक्षा में सबसे बड़ा कठिन विघ्न है।...सभ्य संसार के किसी भी जन समुदाय की शिक्षा का माध्यम विदेशी भाषा नहीं है।"महामना मदनमोहन मालवीय