feedburner

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

खुद ही देखे

.


वाह क्या बात है जी, ट्रक की क्या जरुरत???

18 टिपण्णी:
gravatar
Udan Tashtari said...
27 January 2009 at 12:41 AM  

गज़ब-कौन देशा है भई-चूना पट्टी नया नया पड़ा है रोड में...और उस पर से गाड़ी इतना ओवर लोड में.

gravatar
Ratan Singh Shekhawat said...
27 January 2009 at 3:04 AM  

इतना ऊपर बैठे लोगो की हिम्मत की दाद देनी पड़ेगी !

gravatar
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी said...
27 January 2009 at 3:08 AM  

यह जर्मनी का सीन तो नहीं लगता...!
गजब क्रान्ति है:)

gravatar
Dr. Amar Jyoti said...
27 January 2009 at 4:26 AM  

इसे कहते हैं किफ़ायत।:)

gravatar
PN Subramanian said...
27 January 2009 at 4:32 AM  

बढ़िया मनोरंजक. कोई अफ्रीकी देश का लगता है.आभार

gravatar
PN Subramanian said...
27 January 2009 at 4:32 AM  

बढ़िया मनोरंजक. कोई अफ्रीकी देश का लगता है.आभार

gravatar
रंजन said...
27 January 2009 at 4:33 AM  

मैं तो समझता है ्हिन्दुस्तान में ही ऐसा होता है... सर्वव्यापी है जुगाड़..

gravatar
seema gupta said...
27 January 2009 at 4:38 AM  

" ek bechara, bojh ka mara..."

Regards

gravatar
mehek said...
27 January 2009 at 5:48 AM  

ha ha bahut vajandaar icture

gravatar
रंजना [रंजू भाटिया] said...
27 January 2009 at 6:56 AM  

जुगत अच्छी लगाई है ...:)

gravatar
mamta said...
27 January 2009 at 7:55 AM  

हमें तो ये ambassadar car लग रही है क्योंकि ट्रक के बाद उसमे ही इतनी शक्ति है ।

क्यूँ सही कह रहे है न । :)

gravatar
दीपक कुमार भानरे said...
27 January 2009 at 8:06 AM  

श्रीमान जी बहुत बढ़िया है .
सवारी भी और माल गाड़ी भी .

gravatar
दीपक कुमार भानरे said...
27 January 2009 at 8:06 AM  

श्रीमान जी बहुत बढ़िया है .
सवारी भी और माल गाड़ी भी .

gravatar
ताऊ रामपुरिया said...
27 January 2009 at 9:06 AM  

ये क्या किया आपने भाटिया साहब? आपने मेरी सेव वाली लोडर जब्त करके उसको ये ढोने वाली गाडी बनादी? थोडी तसल्ली तो रखते, मैं आपके सारे पिस्से चुका कर उसको छुडा लेता. :)

gravatar
अल्पना वर्मा said...
27 January 2009 at 11:25 AM  

yah car aur is ke tyres ka make to zaraa pata karwa kar batayeeyega-

tyres aur engine sab is vehicle ke superb quality ke lag rahey hain!
main to sochti thi--ki bajaj Chetak--LML vespa aur Maruuti hi [light vehicles mein] sab se jyada bhaar dho saktey hain!

gravatar
जितेन्द़ भगत said...
27 January 2009 at 5:44 PM  

:)

gravatar
विष्णु बैरागी said...
27 January 2009 at 7:38 PM  

यह हिन्‍दुस्‍तानियों की नकल है या हिन्‍दुस्‍तानियों की प्रेरणा।
बताइएगा।

gravatar
P Chatterjee said...
3 November 2016 at 6:03 AM  


दोस्त की बीवी

डॉली और कोचिंग टीचर

कामवाली की चुदाई

नाटक में चुदाई

स्वीटी की चुदाई

कजिन के मुहं में लंड डाला

Post a Comment

Post a Comment

नमस्कार,आप सब का स्वागत हे, एक सुचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हे, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी हे तो माडरेशन चालू हे, ओर इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा,नयी पोस्ट पर कोई माडरेशन नही हे, आप का धन्यवाद टिपण्णी देने के लिये

टिप्पणी में परेशानी है तो यहां क्लिक करें..
मैं कहता हूं कि आप अपनी भाषा में बोलें, अपनी भाषा में लिखें।उनको गरज होगी तो वे हमारी बात सुनेंगे। मैं अपनी बात अपनी भाषा में कहूंगा।*जिसको गरज होगी वह सुनेगा। आप इस प्रतिज्ञा के साथ काम करेंगे तो हिंदी भाषा का दर्जा बढ़ेगा। महात्मा गांधी अंग्रेजी का माध्यम भारतीयों की शिक्षा में सबसे बड़ा कठिन विघ्न है।...सभ्य संसार के किसी भी जन समुदाय की शिक्षा का माध्यम विदेशी भाषा नहीं है।"महामना मदनमोहन मालवीय