feedburner

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हंसाना सख्त मना है?? अरे आप हंसे जा रहे है..

.




18 टिपण्णी:
gravatar
Ratan Singh Shekhawat said...
27 December 2008 at 3:54 AM  

हँसी तो नही आ रही अचम्भित जरुर हो रहा हूँ !

gravatar
रंजन said...
27 December 2008 at 4:53 AM  

फोटोग्राफी कमाल है!! हंस नहीं रहा.. मना किया न!

gravatar
विवेक सिंह said...
27 December 2008 at 5:12 AM  

भाई लोग कृपया शीर्षक देखें . हंसाना मना है . हँसना नहीं . अत: खुलकर हँसें . जुर्माना तो भाटिया जी को भरना पडेगा जो हँसा रहे हैं . हा हा हा ...

gravatar
Anil Pusadkar said...
27 December 2008 at 5:20 AM  

चौंका दिया भाटिया जी आपने।

gravatar
PD said...
27 December 2008 at 5:28 AM  

badhiya hai ji.. :)
e-mail me dekh chuke hain ab phir se dekh liye.. :)

gravatar
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी said...
27 December 2008 at 5:38 AM  

यह तो कमाल है जी...!

gravatar
सुशील कुमार छौक्कर said...
27 December 2008 at 8:39 AM  

हँसा तो नही पर दंग रह गया। कमाल की फोटो। और हाँ जी किसी पोस्ट में आपने नीबू चाय की बात की थी क्या उसमें चाय नही डलेगी क्या। समय हो तो बताना जी जरुर।

gravatar
ताऊ रामपुरिया said...
27 December 2008 at 9:01 AM  

कमाल की फ़ोटू हैं जी ये तो !

रामराम !

gravatar
राज भाटिय़ा said...
27 December 2008 at 10:07 AM  

सुशील कुमार छौक्कर जी उस मे चाय या ओर कुछ नही डालना, बस नींबू ही डालना है, चीनी, शहद भी डाल सकते है.
धन्यवाद

gravatar
seema gupta said...
27 December 2008 at 11:20 AM  

" my god its amezing........."

regards

gravatar
dhiru singh {धीरू सिंह} said...
27 December 2008 at 1:00 PM  

............................. nahi hasunga aapne kaha hai isliye

gravatar
Alag sa said...
27 December 2008 at 3:27 PM  

आपने हंसना मना लिखा है या चौंकना ?

gravatar
नीरज गोस्वामी said...
27 December 2008 at 5:08 PM  

एक तो आप ऐसी फोटो दिखाते हैं और फ़िर कहते हैं की हंसो मत....ये तो ददैरी है भाई...अब इनको देख कर कोई हँसे बिना कैसे रह सकता है...हंसने दो ना प्लीज ...हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा अह अह आहा हा
नीरज

gravatar
समयचक्र - महेद्र मिश्रा said...
27 December 2008 at 5:27 PM  

हंसा तो नही पर चौक गया हूँ जी . बहुत बढ़िया चित्र राज जी अच्छा कलेक्शन है वह साब

gravatar
Bahadur Patel said...
27 December 2008 at 8:46 PM  

bahut hi badhiya hai.

gravatar
Pyaasa Sajal said...
27 December 2008 at 9:16 PM  

photography kamaal ki kala ho gayee hai ab to...har jagah innovation chal raha hai :)

मिर्ज़ा गालिब को उनके 212वीं जयंती पर बधायी दे:
http://pyasasajal.blogspot.com/2008/12/blog-post_27.html

gravatar
गौतम राजरिशी said...
28 December 2008 at 9:14 AM  

कहां से लाते हो राज साब ये अजूबी तस्वीरें?

gravatar
P Chatterjee said...
3 November 2016 at 6:21 AM  


दोस्त की बीवी

डॉली और कोचिंग टीचर

कामवाली की चुदाई

नाटक में चुदाई

स्वीटी की चुदाई

कजिन के मुहं में लंड डाला

Post a Comment

Post a Comment

नमस्कार,आप सब का स्वागत हे, एक सुचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हे, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी हे तो माडरेशन चालू हे, ओर इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा,नयी पोस्ट पर कोई माडरेशन नही हे, आप का धन्यवाद टिपण्णी देने के लिये

टिप्पणी में परेशानी है तो यहां क्लिक करें..
मैं कहता हूं कि आप अपनी भाषा में बोलें, अपनी भाषा में लिखें।उनको गरज होगी तो वे हमारी बात सुनेंगे। मैं अपनी बात अपनी भाषा में कहूंगा।*जिसको गरज होगी वह सुनेगा। आप इस प्रतिज्ञा के साथ काम करेंगे तो हिंदी भाषा का दर्जा बढ़ेगा। महात्मा गांधी अंग्रेजी का माध्यम भारतीयों की शिक्षा में सबसे बड़ा कठिन विघ्न है।...सभ्य संसार के किसी भी जन समुदाय की शिक्षा का माध्यम विदेशी भाषा नहीं है।"महामना मदनमोहन मालवीय