feedburner

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

तलत महमुद जी भाग १

.

आईये आप को तलत महमुद जी के कुछ गीत ओर गजल सुनाये, भुली बिसरी यादो के साथ, हर सेट मे मेने इस बार भी १० गीत ही रखे है, सुनिये ओर बातये आप को केसे लगे?

Powered by eSnips.com

14 टिपण्णी:
gravatar
लावण्यम्` ~ अन्तर्मन्` said...
19 November 2008 at 3:54 AM  

चुनिँदा गीत हैँ सारे -
आराम सुनते रहेँगेँ -
शुक्रिया राज भाई साहब
- लावण्या

gravatar
ताऊ रामपुरिया said...
19 November 2008 at 4:58 AM  

शुक्रिया भाटिया साहब , इन नायाब गीतों को एक जगह रखने के लिए ! धन्यवाद !

gravatar
गौतम राजरिशी said...
19 November 2008 at 5:31 AM  

सुंदर संकलन...अपनी भी ये सब की सब सर्वकालिन पसंदिदा...

gravatar
PN Subramanian said...
19 November 2008 at 5:37 AM  

धन्यवाद. तलत साहब हमारे भी पसंदीदा गायक हैं. मुझे एक और गीत याद आ गया "किसी ने मुझको बनके अपना मुस्कुराना सिखा दिया" यह लता ने गया है. फिल्म याद नहीं.
http://mallar.wordpress.com

gravatar
कुन्नू सिंह said...
19 November 2008 at 7:47 AM  

बहुत बढीया गाना है। कई दिनो बाद सून्ने जा रहा हूं।

बहुत बहुत सारा ध्नयवाद

gravatar
दीपक "तिवारी साहब" said...
19 November 2008 at 8:24 AM  

बहुत बेहतर कलेक्शन है ! धन्यवाद !

gravatar
seema gupta said...
19 November 2008 at 9:38 AM  

" wow, good collection of songs...."jayen to jayen khan..... sunta hai kaun yhan ..."

Regards

gravatar
Zakir Ali 'Rajneesh' said...
19 November 2008 at 12:15 PM  

तलत साहब का जवाब नहीं। उनके गीत एक साथ उपलब्‍ध कराने का शुक्रिया।

gravatar
mehek said...
19 November 2008 at 4:37 PM  

sundar geet shukran

gravatar
योगेन्द्र मौदगिल said...
19 November 2008 at 5:46 PM  

बेहतरीन गीत संकलन
बधाई स्वीकारें
इससे पहली पोस्ट ताऊ चला दिल्ली की और भी गजब की है
बिल्कुल
कतई रोहत्तक की लाग्गै सै

gravatar
नीरज गोस्वामी said...
19 November 2008 at 6:24 PM  

भाटिया जी आप ने बरसों पुरानी यादें ताजा कर दीं....शुक्रिया.
नीरज

gravatar
jayaka said...
20 November 2008 at 7:19 AM  

तलत महमूद जी की आवाज की हूबहू नकल अभी तक कोई सिंगर नहीं कर पाया है।...इनकी यही खासियत है।...संकलन बहुत ही बढिया है।.... मैने वर्डवेरीफिकेशन हटाया है।...सुझाव के लिए धन्यवाद।

gravatar
राज भाटिय़ा said...
20 November 2008 at 9:06 PM  

किसी ने मुझको बनके अपना मुस्कुराना सिखा दिया
PN Subramanian जी जल्द ही आप की पसंद का गीत भी सुनाऊ गा.
आप सब का बहुत बहुत धन्यवाद

gravatar
P Chatterjee said...
3 November 2016 at 6:39 AM  


दोस्त की बीवी

डॉली और कोचिंग टीचर

कामवाली की चुदाई

नाटक में चुदाई

स्वीटी की चुदाई

कजिन के मुहं में लंड डाला

Post a Comment

Post a Comment

नमस्कार,आप सब का स्वागत हे, एक सुचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हे, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी हे तो माडरेशन चालू हे, ओर इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा,नयी पोस्ट पर कोई माडरेशन नही हे, आप का धन्यवाद टिपण्णी देने के लिये

टिप्पणी में परेशानी है तो यहां क्लिक करें..
मैं कहता हूं कि आप अपनी भाषा में बोलें, अपनी भाषा में लिखें।उनको गरज होगी तो वे हमारी बात सुनेंगे। मैं अपनी बात अपनी भाषा में कहूंगा।*जिसको गरज होगी वह सुनेगा। आप इस प्रतिज्ञा के साथ काम करेंगे तो हिंदी भाषा का दर्जा बढ़ेगा। महात्मा गांधी अंग्रेजी का माध्यम भारतीयों की शिक्षा में सबसे बड़ा कठिन विघ्न है।...सभ्य संसार के किसी भी जन समुदाय की शिक्षा का माध्यम विदेशी भाषा नहीं है।"महामना मदनमोहन मालवीय