feedburner

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

दिल्ली वालो कुछ मदद तो करो ना?

.

 मै शायद जनवरी या फ़रवरी मै एक सप्ताह के लिये भारत आऊ, इस बार भी अकेला ही आ रहा हुं, अभी टिकट नही ली, ओर मै दिल्ली ओर रोहतक मै ही रुकना चहुंगा, दिल्ली मै मेरे सभी रिश्ते दार है, ससूराल भी दिल्ली मै ही है, यार मित्र , दोस्त भी बहुत है...... लेकिन मै किसी के घर नही रुकना चाहता, ओर मै कई दिनो से नेट पर कोई अच्छा सा होटल ढुढ रहा हुं, करीब सात दिनो के लिये, स्टार चाहे ना हो, लेकिन होटल अच्छा हो, ओर एक दो कमरे का हो,बाथ ओर टाल लेट अंदर ही हो, अगर आप लोगो की नजर मै कोई अच्छा सा होटल हो तो जरुर लिखे.

होटल का किराया, कमरे के बारे, ओर आस पास का महोल, ओर होटल किस जगह है, यानि पुरी जानकारी अगर दे सके तो आप सब की मेहरबानी होगी..... मै इन्तजार मै हुं, आप लोगो के जबाब की.
राम राम

31 टिपण्णी:
gravatar
खुशदीप सहगल said...
20 December 2009 at 7:33 PM  

राज जी,
बस आप हुक्म करिए कब आ रहे हैं...बाकी आपको कोई चिंता करने की ज़रूरत नहीं है...ये ज़िम्मेदारी हम सब दिल्ली-नोएडा वाले कॉमरेडों की है...क्यों डॉक्टर दराल सर, अविनाश वाचस्पति जी, अजय कुमार झा भाई, राजीव तनेजा जी और मैं तो हूं ही...

जय हिंद...

gravatar
संगीता पुरी said...
20 December 2009 at 7:38 PM  

आपकी समस्‍या आसानी से हल होती दिख रही है .. जल्‍द ही मैं भी दिल्‍ली का कार्यक्रम बनाती हूं !!

gravatar
विनोद कुमार पांडेय said...
20 December 2009 at 7:38 PM  

राज जी आप का स्वागत है दिल्ली में सारी व्यवस्था हो जाएगी..जैसा की खुशदीप भाई के कहाँ यहाँ बहुत चाहने वाले है..अपने ब्लॉगर परिवार में...

gravatar
डॉ महेश सिन्हा said...
20 December 2009 at 7:39 PM  

टाटा समूह का एक अच्छा होटल नई दिल्ली स्टेशन से लगा हुआ है
जिंजर है इसका नाम . http://www.gingerhotels.com/index.aspx
ऑनलाइन बूकिंग की सुविधा है

gravatar
दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...
20 December 2009 at 8:46 PM  

भारत में आप का स्वागत है। दिल्ली में ठहरने की तारीखें बताइयेगा। आप से मिलने का कार्यक्रम बनाया जा सके।

gravatar
पं.डी.के.शर्मा"वत्स" said...
20 December 2009 at 10:12 PM  

उम्मीद करते है कि आपसे मुलाकात हो पाएगी....लुधियाना न सही दिल्ली या रोहतक ही सही ।

gravatar
मनोज कुमार said...
21 December 2009 at 2:34 AM  

हमें भी सूचित कर दीजिएगा। दिल्ली का कार्यक्रम हम भी बना लेंगे, आपसे मुलाक़ात भी हो जाएगी।

gravatar
निर्मला कपिला said...
21 December 2009 at 4:21 AM  

भाटिया जी बहुत खुशी हुयीआपके आने का समाचार सुन कर अगर आप अपने गाँव गढ्धंकर आये तो मुझे जरूर सूचित करें। दिल्ली नहीं आ पाऊँगी। आपका नंगल मे भी स्वागत है। धन्यवादौर शुभकामनायें

gravatar
जी.के. अवधिया said...
21 December 2009 at 4:55 AM  

राज जी, हम तो इस मामले में आपकी मदद नहीं कर सकते पर अपने खुशदीप जी हैं ना वहाँ पर आपकी मदद के लिये!

gravatar
महफूज़ अली said...
21 December 2009 at 5:37 AM  

मैं अभी राजीव तनेजा जी और अजय झा जी को आपकी यह समस्या बताता हूँ.... वैसे मैं दिल्ली में जिस होटल में ठहरता हूँ उसका नंबर है 09810185809 और नाम है राजू .....यह उस होटल के मेनेजर हैं.... और होटल का नाम है MARYGOLD.... यह पहाडगंज के पास है... किराया 800/900 रपये है.... डिस्काउंट आपको २०% तक मिल जायेगा.... रूम में पूरी फसिलिटी है.... जो आप चाहते हैं......

gravatar
पी.सी.गोदियाल said...
21 December 2009 at 5:56 AM  

भाटिया साहब, आप टैरिफ रेंज बता देते तो सूचनाये उपलब्ध कराने में मदद मिलती !

gravatar
पी.सी.गोदियाल said...
21 December 2009 at 5:57 AM  

साथ में "प्रिफर्ड एरिया" भी

gravatar
ललित शर्मा said...
21 December 2009 at 6:05 AM  

भाटिया जी-इतने लोग है अपने दिल्ली मे, अभी खुशदीप जी ने बताया, काहे की चिंता, बस आप पहुँच जाईए और हमारे यहाँ आईए स्वागत है, एक सप्ताह रेस्ट हाउस फ़्री।

gravatar
seema gupta said...
21 December 2009 at 6:09 AM  

आदरणीय राज जी आप का स्वागत है दिल्ली में..

regards

gravatar
अन्तर सोहिल said...
21 December 2009 at 6:50 AM  

राज जी नमस्कार
अगर आप दिल्ली-रोहतक के बीच में चाहते हैं तो बहादुरगढ (दिल्ली से 30 किमी और रोहतक से 43 किमी) में गौरैया, होटल वी सी और गजराज तीनों बहुत बढीया होटल हैं। गौरैया और गजराज दोनों हरियाणा टूरिज्म के हैं और सर्विस भी काफी अच्छी हैं। गजराज 3 स्टार है। इसके अलावा आसौदा में फन टाऊन (दिल्ली से 43 किमी और रोहतक से 34 किमी) है। यह भी काफी अच्छा है। दूसरी तरफ करनाल वाले रोड पर अलीपुर के पास रिट्रीट है। इन सब के टैरिफ 1000-1800 के बीच में है।
और दिल्ली के बीच में जामा मस्जिद के पास तारा पैलेस होटल (www.tarapalace.com) है जी। यहां भी अच्छा है। अगर आपको बुरा ना लगे तो छह-सात दिन आने जाने के लिये आप मेरी छोटी सी कार (जेन एस्टिलो) अपने पास रख सकते हैं। अगर आपको छोटी कार चलाने में असुविधा ना हो तो।

gravatar
अन्तर सोहिल said...
21 December 2009 at 6:56 AM  

रिट्रीट (अलीपुर) और फन टाऊन (आसौदा) वाले दोनों होटल बाहरी इलाके में हैं और लोकेशन के हिसाब से आपको खुला खुला लगेगा। इन दोनों में वाटर पार्क भी हैं। गौरैया में भी थोडा सा पार्क और हरियाली है। मगर गजराज में केवल बिल्डिंग है। मगर सर्विस बढिया है। तारा पैलेस दिल्ली के केन्द्र में है और नईदिल्ली रेलवे स्टेशन, पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन और बस अड्डा और लालकिला के पास में है।

प्रणाम स्वीकार करें

gravatar
अविनाश वाचस्पति said...
21 December 2009 at 7:01 AM  

लीजिए राज जी
कार से लेकर
ब्‍लॉगिंग की सरकार तक
सब आपकी प्रतीक्षा में हैं
या आप जानना चाह रहे हैं
अपना पराया
पराया कुछ नहीं
सब अपना ही है
और सपना नहीं।

gravatar
अजय कुमार झा said...
21 December 2009 at 8:27 AM  

लिजीये आप पता ठिकाना रहने के लिए पूछ रहे हैं और मैं तो दिल्ली के अगले ब्लोग बैठकी की तैय्यारी करने लगा हूं इतने सारे लोग जब पहुंच ही रहे हैं तो फ़िर भला हम कब मानने वाले हैं .....आप कहेंगे कि लो झा जी शुरू हो गए ...मगर क्या करूं जी ब्लोग्गर तो ब्लोग्गर ही ठहरा न ..आप आ जाईये बस कोई दिक्कत नहीं है ....हां अपना घर भी बिना स्टार वाला ही है

gravatar
singhsdm said...
21 December 2009 at 8:53 AM  

राज जी स्वागत है भारत आइये......देखिये कितना बदला है ये देश और कुछ लिख डालिए इस विषय पर.........!

gravatar
दिगम्बर नासवा said...
21 December 2009 at 10:11 AM  

भाटिया जी आते जाते अगर में दुबई आने का विचार बने तो बंदे का घर हाजिर है .............. बस सूचित कर दें ..........

gravatar
राज भाटिय़ा said...
21 December 2009 at 11:06 AM  

आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद, मै आने से दो सप्ताह पहले आप सब को बता दुंगा,मुझे नही पता था कि इतन सम्मान ओर मान आप लोग मुझे देगे, मै जल्द आना चाहता हुं लेकिन हमारी बीबी अभी नही मानती, वो अब डरती है,जब से मेरी तबीयत खराब हुयी है, ओर बच्चो की पढाई के कारण हम दोनो अभी नही आ सकते, होटल तो बहुत मिलते है, लेकिन किस इलाके मै केसा माहोल है, यह भी पता होना जरुरी है, किसी गलत इलाके मै होटल हो तो कही लेने के देने ही ना पड जाये, ओर ससुराल मै बिना बीबी जाते मुझे अच्छा नही लगता, लेकिन कम से कम आप सब को आने से काफ़ी समय पहले बता दुंगा.्दिनेश जी आप से मिलना तो बहुत जरुरी है, आप को अपने पास एक दो दिन रखूंगा भी, मेरा काम तो एक दिन का है, बाकी सब समय आप लोगो के संग ही बीतेगा, अभी आप सब का अलग अलग नाम नही ले रहा, सब को हाथ जोड कर धन्यवाद कर रह हुं, आप लोगो के प्यार से मुझे आप का गुलाम बना लिया
आप सब का बहुत बहुत धन्यवाद

gravatar
ताऊ रामपुरिया said...
21 December 2009 at 11:17 AM  

लो जी अब आराम से आने का प्रोग्राम बना डालो आप तो, करिब २ सब समस्या तो हल हो ही गई है. स्वागत है.

रामराम.

gravatar
महेन्द्र मिश्र said...
21 December 2009 at 11:54 AM  

भारत आने के लिए अनेको शुभकामनाये .भारत की धरती पर आपका स्वागत है . समय मिले तो जबलपुर का भेडाघाट जलप्रपात जरुर देखें .

gravatar
Arvind Mishra said...
21 December 2009 at 5:02 PM  

इधर बनारस भी तो घूम जाइए -बहुत आभार आपके जन्मदिन शुभकामना का !

gravatar
अविनाश वाचस्पति said...
21 December 2009 at 5:08 PM  

एक चार्टर्ड हवाई जहाज
या उड़न तश्‍तरी ले लेना
सभी जगह डोलेंगे
हर नुक्‍कड़ गली गली
जय ब्‍लॉगिंग, जय ब्‍लॉगर बोलेंगे
राज सारे खोलेंगे, साथ सारे होलेंगे।

gravatar
खुला सांड said...
22 December 2009 at 4:37 AM  

सुस्वागतम भाटियाजी!!!

gravatar
अजय कुमार said...
23 December 2009 at 4:05 AM  

आपका स्वागत है ।लगता दिल्ली में ब्लागर सम्मेलन होनेवाला है ।फोटो और रिपोर्ट देखकर मैं समझुंगा कि मैं भी शामिल हो गया

gravatar
शोभना चौरे said...
23 December 2009 at 6:47 PM  

आप भारत आ रहे है यह जानकर ख़ुशी हुई और दिल्ली में तो आपके स्वागत के लिए सब उत्सुक है मै तो इदोर में रहती हूँ हो सके तो यह भी आइये पास ही महांकाल (उज्जैन )के दर्शन भी करवा देगे |

gravatar
नीरज जाट जी said...
24 December 2009 at 10:12 AM  

raj ji, namaskar
apni sasuraal hote hue bhi aap kisi hotel me rahna chaahte hain. lekin delhi me jo asal samasya hai, wo hai aane jaane kee dikkat.
to ji, uske liye main hoon na? meri taraf se aapko METRO me free entry. aakhir ham metri aale kab kaam aayenge.

gravatar
निर्झर'नीर said...
29 December 2009 at 5:24 AM  

खुशकिस्मती कहेंगे अगर आपसे मिलने का मौका मिलेगा तो बाकि रहने की व्यवस्था तो पहले ही आपके चाहने वाले कर चुके है .
सूचना हमें भी मिलेगी ऐसी उम्मीद करते है 9313292896

gravatar
P Chatterjee said...
3 November 2016 at 4:29 AM  


दोस्त की बीवी

डॉली और कोचिंग टीचर

कामवाली की चुदाई

नाटक में चुदाई

स्वीटी की चुदाई

कजिन के मुहं में लंड डाला

Post a Comment

Post a Comment

नमस्कार,आप सब का स्वागत हे, एक सुचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हे, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी हे तो माडरेशन चालू हे, ओर इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा,नयी पोस्ट पर कोई माडरेशन नही हे, आप का धन्यवाद टिपण्णी देने के लिये

टिप्पणी में परेशानी है तो यहां क्लिक करें..
मैं कहता हूं कि आप अपनी भाषा में बोलें, अपनी भाषा में लिखें।उनको गरज होगी तो वे हमारी बात सुनेंगे। मैं अपनी बात अपनी भाषा में कहूंगा।*जिसको गरज होगी वह सुनेगा। आप इस प्रतिज्ञा के साथ काम करेंगे तो हिंदी भाषा का दर्जा बढ़ेगा। महात्मा गांधी अंग्रेजी का माध्यम भारतीयों की शिक्षा में सबसे बड़ा कठिन विघ्न है।...सभ्य संसार के किसी भी जन समुदाय की शिक्षा का माध्यम विदेशी भाषा नहीं है।"महामना मदनमोहन मालवीय