feedburner

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

ताऊ ओर मेंडक

.

एक बार दो ट्रक ड्राईवर इजिप्टेन मै घुमने गये, वहा एक मुजियम मे घुसे तो सामने एक ताबुत मै फ़ारोन की लाश पडी थी.
उसे देख कर,
पहला ड्राईवर बोला जरुर यह किसी ट्रक के नीचे आ कर मरा है,
दुसरा ड्राईवर आप ठीक कह रहे है, देखो इस के डब्बे पर ट्रक का ना० भी लिखा है 1142 B.C:
**************************************************
एक बहुत बडी इमारत मै आग लग गई, लोग अपनी अपनी जान बचाने के लिये भाग रहे है, फ़ायर ब्रिगेड भी काफ़ी सारी आ गई, तभी ताऊ उधर से गुजरा..... ओर ताऊ ने १० लोगो को आग मै घुस कर बचा लिया.
ताऊ को पुलिस पकड कर ले गई ?
जज ने ताऊ को जेल भेज दिया??
पता क्यो? अजी ताऊ ने फ़ायर ब्रिगेड के लोगो को ही इमारत से निकाल दिया था
****************************************************
आदि जब बोलने लग गया, ओर ..
मां मै जब बडा हो जाऊगा ना तो मै ना एयर फ़ोर्स मै बहुत बडा पायलेट बनूंगा... ओर ना जब मै अपना हवाई जहाज अपने घर के ऊपर से ले जाऊगा ना तो कितना मजा आयेगा:)
मां हां बेटा, लेकिन मुझे केसे पता चलेगा कि मेरा लाडला बेटा इस जहाज को चला रहा है?
अरे मा जब घर के उपर से गुजरुगा ना तो एक बम्ब गिरा दुंगा, ताकि तुम्हे पता चल जाये....
**********************************************************
मास्टर जी. अच्छा बच्चो बताओ,जिस को सुनाई नही देता, उसे अग्रेजी मै क्या कहते है?
ताऊ..मास्साब कुछ भी कह लो उसे कोन सा सुनाई देगा
**********************************************************
बन्ता जी शादी के लिये लडकी देखने गये, मां बाप ने दोनो को थोडी देर के लिये अलग छोड् दिया, ताकि दोनो कुछ बात कर सके....
अकेले मै बन्ता को कुछ समझ नही आया कि क्या बात करे ? अचानक बन्ता बोला लडकी से ??
बहिन जी आप के कितने भाई है.
लडकी बोली पहले तो तीन थे, अब आप आ गये तो चार हो गये.
*****************************************
एक तलाब के किनारे ताऊ बेठा था, साथ मे एक मेंडक, मेडक बोला ताऊ से...
ताऊ के दिमाग होता है क्या ?
ताऊ बोला हां होता है लेकिन क्या बात है ?
मेडक बोला नही होता ओर पानी मे कुद गया....
ताऊ, अरे यार इस मै आत्महत्या करने कि क्या बात मै तो मजाक कर रहा था.

22 टिपण्णी:
gravatar
Anil Pusadkar said...
23 September 2009 at 9:04 PM  

आनंद आ गया भाटिया जी।

gravatar
mehek said...
23 September 2009 at 9:15 PM  

ha ha bahut mazedar khas kar mendak aur tau ji:) wala joke jabardast raha.

gravatar
शरद कोकास said...
23 September 2009 at 9:29 PM  

फराउन वाला किस्सा तो "पुरातत्ववेत्ता " मे देने लायक है ।

gravatar
दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...
23 September 2009 at 9:35 PM  

मजेदार,कहाँ से तलाश लाते हैं आप?

gravatar
M VERMA said...
24 September 2009 at 1:33 AM  

वैसे मै भी नही समझ पाया इस बात मे कुछ् ऐसा तो था नही कि आत्महत्या की जाये.
हा हा बहुत सुन्दर

gravatar
seema gupta said...
24 September 2009 at 5:08 AM  

हा हा हा हा हा हा हा हा हा हा

regards

gravatar
Nirmla Kapila said...
24 September 2009 at 7:18 AM  

वाह वाह बहुत बडीया बधाई

gravatar
ताऊ रामपुरिया said...
24 September 2009 at 7:26 AM  

बहुत बढिया जी.

रामराम.

gravatar
Murari Pareek said...
24 September 2009 at 7:41 AM  

ha...ha..ha.. bahut achchee majaa agayaa!!

gravatar
अन्तर सोहिल said...
24 September 2009 at 9:53 AM  

जीईईईईईईईईईईईईईईईईईईईसस्स्स्स्स्स्स्स्स्सआआआआआआआआआ गया

प्रणाम

gravatar
पं.डी.के.शर्मा"वत्स" said...
24 September 2009 at 3:07 PM  

हा हा हा...मजेदार्!
कमाल है! आप कहाँ से ढूँढकर लाते हैं इतने मजेदार चुटकुले......

gravatar
महेन्द्र मिश्र said...
24 September 2009 at 6:14 PM  

बेहतरीन चुटकुले है आनंद आ गया हा हा हा ही ह ईईईईई

gravatar
cartoonist anurag said...
25 September 2009 at 11:54 AM  

sabhi ek se badakar ek...............

gravatar
शोभना चौरे said...
25 September 2009 at 12:09 PM  

airfors vala jok bdhiya rha

gravatar
दिगम्बर नासवा said...
25 September 2009 at 6:01 PM  

ताऊ और आपके चुटकले ...... दोनों लाजवाब मिल से हैं ...... मज़ा अ गया ..........

gravatar
Suman said...
26 September 2009 at 5:05 AM  

nice

gravatar
Babli said...
28 September 2009 at 7:27 AM  

वाह वाह क्या बात है! बहुत खूब ! मज़ा आ गया! विजयादशमी की हार्दिक शुभकामनायें!

gravatar
ताऊ रामपुरिया said...
28 September 2009 at 7:31 AM  

इष्ट मित्रों एवम कुटुंब जनों सहित आपको दशहरे की घणी रामराम.

gravatar
सुमित तोमर said...
28 September 2009 at 9:37 AM  

दशहरे की शुभकामनायें यूं ही
अच्छी-२ रचनाओं का निर्माण करते रहें...

gravatar
Devendra said...
28 September 2009 at 9:52 AM  

---मेंढक फिर पानी से ऊपर उछलकर बोला-
"गज़ब का मजाक करते हैं आप। मैने तो समझा था कि आपके पास दिमाग बिलकुल नहीं है।"
----हा-हा-हा- मजा आ गया --
यह चुटकुला तो मेरी भी समझ में आ गया। बाकी के लिए दिमाग कुछ कम पड़ गया।

gravatar
वन्दना अवस्थी दुबे said...
28 September 2009 at 7:51 PM  

विजयादशमी की बहुत-बहुत शुभकामनायें

gravatar
प्रसन्न वदन चतुर्वेदी said...
29 September 2009 at 4:43 AM  

mazedaar chutkule........badhai...

Post a Comment

Post a Comment

नमस्कार,आप सब का स्वागत हे, एक सुचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हे, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी हे तो माडरेशन चालू हे, ओर इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा,नयी पोस्ट पर कोई माडरेशन नही हे, आप का धन्यवाद टिपण्णी देने के लिये

टिप्पणी में परेशानी है तो यहां क्लिक करें..
मैं कहता हूं कि आप अपनी भाषा में बोलें, अपनी भाषा में लिखें।उनको गरज होगी तो वे हमारी बात सुनेंगे। मैं अपनी बात अपनी भाषा में कहूंगा।*जिसको गरज होगी वह सुनेगा। आप इस प्रतिज्ञा के साथ काम करेंगे तो हिंदी भाषा का दर्जा बढ़ेगा। महात्मा गांधी अंग्रेजी का माध्यम भारतीयों की शिक्षा में सबसे बड़ा कठिन विघ्न है।...सभ्य संसार के किसी भी जन समुदाय की शिक्षा का माध्यम विदेशी भाषा नहीं है।"महामना मदनमोहन मालवीय