feedburner

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

टी वी प्रोग्राम ओर हम

.

आप सभी को नमस्कार,
अगर आप के यहां स्टार पल्स/वन नाम का कोई चेनल आता हो, तो आज करीव सात से आठ के बीच एक प्रोगराम आये गा, जिस मै विदेशी भारतीयो के बारे बताया जाये गा, आज हमारे जर्मन के बारे मै कि भारतीया लोग किस तरह से अपने त्योहार मनाते है विदेशो मै, ओर इस मै खास बात यह कि यह हमारे शहर के पास वाले शहर की फ़िलम होगी, जिस मै हमारा परिवार भी होगा,
देखना ना भुले.
फ़िर बताये केसी लगी हमारी दिपावली, ओर क्या हमे पहचाना.

15 टिपण्णी:
gravatar
डॉ मनोज मिश्र said...
1 April 2009 at 5:04 AM  

बिलकुल हम देखेंगे और बतायेंगे भी .

gravatar
संगीता पुरी said...
1 April 2009 at 6:11 AM  

जरूर देखेंगे ... बधाई।

gravatar
seema gupta said...
1 April 2009 at 6:20 AM  

sir ji अप्रेल फूल to nahi bna rhe aap bhi ?????

Regards

gravatar
अन्तर सोहिल said...
1 April 2009 at 7:28 AM  

आदरणीय भाटीया जी नमस्कार
स्टार वन पर या स्टार प्लस पर, पर सात से आठ सुबह या शाम
आपके यानि जर्मनी के या भारत के सात से आठ
आज यानि 1 अप्रैल या 31 मार्च

gravatar
आलोक सिंह said...
1 April 2009 at 7:55 AM  

आज ७-८ टीवी से चिपके रहेगे .

gravatar
ताऊ रामपुरिया said...
1 April 2009 at 8:42 AM  

हम तो पहले से ही अप्रेल फ़ूल बने हुये हैं. हमे काहे से को बना रहे हैं जी.:)

रामराम.

gravatar
दिगम्बर नासवा said...
1 April 2009 at 8:43 AM  

भाटिया जी
समय भारत की हिसाब से है या जर्मन के हिसाब से.........

gravatar
अशोक पाण्डेय said...
1 April 2009 at 9:34 AM  

जरूर देखेंगे प्रोग्राम। आपको दशहरा की शुभकामनाएं :)

gravatar
sandhyagupta said...
1 April 2009 at 10:43 AM  

Star plus to aata hai par star one shayad nahin aata.Ho sake to video site par post kar den.

gravatar
नीरज गोस्वामी said...
1 April 2009 at 1:15 PM  

आप मूर्ख तो नहीं बना रहे न...वैसे हमें बनाने की जरूरत किसी को नहीं पढ़ती फिर भी पूछ लिया...आज देखते हैं टी.वी. ...
नीरज

gravatar
Pt.डी.के.शर्मा"वत्स" said...
1 April 2009 at 1:59 PM  

भाटिया जी, हमने तो प्रोग्राम देख भी लिया.....हां आप दिखाई तो दिए थे,लेकिन थोडे कमजोर नजर आ रहे थे.

gravatar
सतीश चंद्र सत्यार्थी said...
4 April 2009 at 1:26 PM  

समस्या यह है कि मैं होस्टल में रहता हूँ. और यहाँ टीवी चैनल सबकी मर्जी से चलता है. मेरा मतलब है बहुमत से.
यानि आज कुछ दोस्तों कों लेकर बैठना पड़ेगा. मजमा लगे तो लेंगे. प्रोग्राम तो देखना ही है.

gravatar
dheeraj said...
4 April 2009 at 1:50 PM  

चलिए आपने अच्छी जानकारी दी है । वैसे स्‍टार प्लस का सभी सो मै देख नही पाता हू लेकिन आपने बतला दिया तो कोशिश जरूर करूगा । खाककर जब विदेशी भारतीय की बात हो तो जरूर प्रयास रहेगा । धन्यवाद

gravatar
mark rai said...
3 May 2009 at 10:34 AM  

बहुत ही सुंदर,
धन्यवाद........आपने अच्छी जानकारी दी है .....


अन्दर तो छोडिये साब ...छत पर लेट कर भी कोई समाधान नही खोज पता । इसे जड़ता नही कहा जाए तो और क्या ?हालत तो ऐसी है की जब अपनी ही पीडाओं का पता नही तो दूसरों ......!
अभी भी रोटी के संघर्ष को नही जान पाया । कैसे माफ़ किया जाय मुझे ......
घर और मुल्क की गरीबी का कोई प्रभाव नही पड़ा । कैसे माफ़ किया जाय मुझे ......

gravatar
P Chatterjee said...
3 November 2016 at 5:11 AM  


दोस्त की बीवी

डॉली और कोचिंग टीचर

कामवाली की चुदाई

नाटक में चुदाई

स्वीटी की चुदाई

कजिन के मुहं में लंड डाला

Post a Comment

Post a Comment

नमस्कार,आप सब का स्वागत हे, एक सुचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हे, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी हे तो माडरेशन चालू हे, ओर इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा,नयी पोस्ट पर कोई माडरेशन नही हे, आप का धन्यवाद टिपण्णी देने के लिये

टिप्पणी में परेशानी है तो यहां क्लिक करें..
मैं कहता हूं कि आप अपनी भाषा में बोलें, अपनी भाषा में लिखें।उनको गरज होगी तो वे हमारी बात सुनेंगे। मैं अपनी बात अपनी भाषा में कहूंगा।*जिसको गरज होगी वह सुनेगा। आप इस प्रतिज्ञा के साथ काम करेंगे तो हिंदी भाषा का दर्जा बढ़ेगा। महात्मा गांधी अंग्रेजी का माध्यम भारतीयों की शिक्षा में सबसे बड़ा कठिन विघ्न है।...सभ्य संसार के किसी भी जन समुदाय की शिक्षा का माध्यम विदेशी भाषा नहीं है।"महामना मदनमोहन मालवीय